मेजर सहित चार जवान शहीद, जैश कमांडर कामरान समेत तीन आतंकवादी ढेर

मेजर सहित चार जवान शहीद, जैश कमांडर कामरान समेत तीन आतंकवादी ढेर

 भाषा के अनुसार, यह मुठभेड़ पुलवामा के पिंगलान इलाके में हुई। इस जगह से करीब 12 किलोमीटर दूरी पर 14 फरवरी को एक आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे और पांच गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस आतंकवादी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है।

अधिकारियों ने बताया कि मुठभेड़ में सेना के चार जवान शहीद हो गए। इस दौरान जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए और एक आम नागरिक की भी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि मारे गए एक आतंकवादी की पहचान कामरान के रूप में की गई है जो एक पाकिस्तानी नागरिक और जैश का शीर्ष कमांडर था। दूसरे आतंकवादी की पहचान स्थानीय नागरिक हिलाल अहमद के रूप में की गई है। उसका संबंध भी जैश-ए-मोहम्मद से था। वहीं अभी तक तीसरे आतंकी की पहचान नहीं हुई है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, जांचकर्ता सीआरपीएफ के काफिले पर 14 फरवरी को हुए आत्मघाती हमले में कामरान की भूमिका की जांच कर रहे हैं। इस मुठभेड़ में मेजर वी एस ढोंडियाल, हवलदार एस राम और सिपाही हरि सिंह एवं अजय कुमार शहीद हो गए। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने रात में इलाके की घेराबंदी की और तलाशी अभियान शुरू किया। अधिकारियों ने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: