जिलाअधिकारी द्वारा लगाई गई प्रशासन की पाठशाला

ज़िलाधिकारी द्वारा लगाई गई प्रशासन की पाठशाला

गौतम ksp
संवादाता लखनऊ जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश द्वारा ऐसी बालिकाओ जो
उक्त कार्यक्रम का शुभारंभ आई हुई छात्राओ को पुष्प भेट कर के किया गया। जिसके पश्चात अपर जिलाधिकारी पूर्वी द्वारा छात्राओं को कार्यक्रम के बारे में संक्षेप में बताया। उक्त कार्यक्रम में डॉक्टर रश्मि सोनी व सुश्री नेहा आनंद परामर्शदाता/मनोचिकित्सक द्वारा छात्राओ को तनाव मुक्त तैयारी कैसे करें उसके बारे में बताया। साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओ में गुणवत्ता परक तैयारी हेतु जनपद के प्रसिद्ध कोचिंग संस्थान धेय्य, आकाश व महिंद्रा कोचिंग संस्थान के विशेषज्ञों के द्वारा छात्राओ को मार्गदर्शन दिया गया जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य छात्राओ को मोटिवेट व मार्गदर्शन देना है। जिलाधिकारी द्वारा अपने सम्बोधन में छात्राओ को बताया गया कि सफल होने के लिए 3 कार्य बहुत जरूरी है। 1. बेहतर नागरिक बनना, 2. अपने कार्यो के द्वारा राष्ट्र निर्माण में योगदान देना और 3. पे बैक तो सोसाइटी। उन्होंने बताया कि यह तीन चीज़े सफलता का मूल मंत्र है। साथ ही साथ अपना सेल्फ कॉन्फिडेंट को कभी नीचे नही आने देना। उन्होंने बताया कि हमे छोटे छोटे स्टेप के द्वारा आगे बढ़ना है। असफलताओ से बिल्कुल भी नही डरना है। कोशिश करते रहना है और असफलताओं से सीख लेना है। साथ ही साथ जिलाधिकारी द्वारा प्रापर न्यूट्रिशन पर भी छात्राओं का ध्यान केंद्रित कराया। उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ्य शरीर मे ही स्वस्थ्य मष्तिष्क का वास होता है। जिलाधिकारी द्वारा मार्गदर्शन किया गया। उक्त के बाद छात्राओ को जिला प्रशासन की ओर से उपहारस्वरूप काफी मग, राईटिंग पैड, पेन व डिक्शनरी भी भेंट की गई।

उक्त कार्यक्रम के पश्चात जिलाधिकारी द्वारा मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत हेल्पलाइन सेवा की समीक्षा भी की गई। ज़िला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बताया गया कि 1 जनवरी 2021 से 15 फरवरी तक कुल 643 कॉल प्राप्त हुई, जिसमे शिकायत से सम्बंधित 105, पूछताछ से सम्बंधित 138, फीडबैक से सम्बंधित 248, शार्ट काल 151 थी। सभी कॉल्स का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित कराया गया। उन्होंने बताया कि इस सेवा के अंतर्गत महिलाओ और बच्चों के लिये सेफ सिटी सेवा को भी लिंक किया गया है जिसके लिए 5 बोलेरो गाड़ियों की व्यवस्था भी की गई है। जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि उक्त सेवा का व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाए ताकि सभी लोगो को हेल्पलाइन सेवा की जानकारी हो सके। जिसके लिए निर्देश दिया कि रेलवे स्टेशन, बस स्टॉप, तहसील, ब्लाक व स्कूल कालेज आदि में हेल्पलाइन सेवा के स्टिकर लगवाए जाए। साथ ही साथ स्लम एरिया में अधिकारियों द्वारा जाकर जागरूकता के कार्यक्रम भी चलाए जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: