व्यापारियों के गले की फांस बनी गुड्स एंड सर्विस टैक्स प्रणाली

गौतम ksp

संवादाता लखनऊ जीएसटी की लिखा पढ़ी के चक्कर में व्यापारी नहीं कर पा रहे हैं जीएसटी प्रणाली की विसंगतियों एवं व्यापारियों का उत्पीड़न बढ़ाने वाले प्रावधानों को वापस लेने के लिए मंगलवार, 16फरवरी से प्रदेश के उपमुख्यमंत्री, मंत्री गणों सांसदों एवं विधायकों तथा जीएसटी कमिश्नर एवं केंद्रीय मुख्य जीएसटी कमिश्नर को ज्ञापन देकर अपनी आपत्ति जताते हुए जीएसटी परिषद तक अपनी बात पहुंचा कर व्यापारियों के उत्पीड़न को बढ़ाने वाले प्रावधानों को वापस लेने की मांग करेगा आदर्श व्यापार मंडल

नए जटिल प्रावधानों एवं व्यापारियों के जीएसटी पंजीयन रद्द करने के प्रावधान से व्यापारियों का बढ़ेगा उत्पीड़न: संजय गुप्ता

प्रदेश एवं देश के व्यापारी गुड्स एंड सर्विस टैक्स प्रणाली के मकड़जाल में उलझ गए हैं रोज नए नए प्रावधान से व्यापारियों के उत्पीड़न का मार्ग प्रशस्त हो रहा है तथा व्यापारी अधिकारियों के उत्पीड़न का शिकार हो रहे हैं व्यापारियों को जरा सी भी गलती या दूसरे की गलती की सजा मिलने का नए प्रावधान में मार्ग प्रशस्त हो गया है जीएसटी परिषद अभी तक 937 बार जीएसटी को संशोधित कर चुकी है और सैकड़ों नए प्रावधान इस में जोड़े जा चुके हैं जिसकी पूरी जानकारी अधिकारियों को भी नहीं रहती है उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष एवं कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के प्रांतीय चेयरमैन संजय गुप्ता ने कहा जीएसटी का वर्तमान स्वरूप बेहद जटिल हो गया है तथा रोज नए प्रावधानों से व्यापारियों का उत्पीड़न बढ़ रहा है उन्होंने कहा संगठन की केंद्र सरकार एवं जीएसटी परिषद से मांग है जीएसटी कानून एवं नियमों की समीक्षा करके गलत प्रावधानों को हटाया जाए उन्होंने कहा जीएसटी की धारा 75 (12) में यदि गलती से व्यापारी ने अधिक कर की गणना कर दी है तो वह स्व कर निर्धारण मानकर व्यापारी से कर वसूला जाएगा तथा कोई इस परिपेक्ष में नोटिस भी नहीं जारी की जाएगी
इसी तरह यदि gstr 1 और-3b में अंतर होने पर कर अधिकारी व्यापारी का पंजीयन निरस्त करने का भी अधिकार पा गए हैं
उन्होंने कहा इसी प्रकार से इनपुट क्रेडिट सप्लायर द्वारा रिटर्न फाइल करने और इसकी सूचना खरीदार को देने ही मिलेगा, व्यापारी के पास दस्तावेज होने के बावजूद उसका कोई अर्थ नहीं रह गया ट्रांजिट के समय माल जप्त होने की दशा में व्यापारी चाहे सही हो या गलत छोटी सी गलती पर भी 25% पेनाल्टी अनिवार्य रूप से जमा करनी होगी व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने कहा ऐसे अनेक व्यापारी विरोधी जीएसटी प्रणाली के प्रावधानों को वापस लेने तथा जीएसटी को सरल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल मंगलवार, 16फरवरी से प्रदेश के उपमुख्यमंत्री, मंत्रीगणो, सांसदों एवं विधायकों, जीएसटी कमिश्नर, केंद्रीय जीएसटी मुख्य कमिश्नर, को ज्ञापन देंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: