दुबग्गा स्थित अंधे की चौकी अब ब्रजानंद चौकी के नाम से जानी जाएगी

लखनऊ। राजधानी में दुबग्गा स्थित अंधे की चौकी का नाम बदलकर महापौर संयुक्ता भाटिया ने दृस्टिबाधित समाज सेवी बृजानंद चौकी के नाम पर कर दिया गया है। दरअसल, महापौर रविवार को राष्ट्रीय दृस्टिबाधित संस्था एवं राष्ट्रीय दृष्टिहीन परिसंघ नई दिल्ली के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित एक समारोह में हिस्सा लेने डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय पहुंची थीं। यह कार्यक्रम दृस्टिबाधित छात्राओं की उच्च शिक्षा पर आधारित विचार गोष्ठी के लिए था। यहां मुख्य अतिथि के रूप में पहुंची संयुक्ता भाटिया ने दृस्टिबाधित छात्राओं की मार्गदर्शन किया।

 

इस दौरान उन्होंने अंधे की चौकी का नाम बदलकर दृस्टिबाधित समाज सेवी बृजानंद चौकी के नाम पर कर दिया। जिसके लिए दृष्टिबाधितों ने महापौर को धन्यवाद दिया। इस अवसर पर महापौर का स्वागत पुष्पगुच्छ देकर संस्था के महासचिव एस.के.सिंह (दृस्टिबाधित) ने एवं डीआरडीओ में कार्यरत गोरी सेन (दृस्टिबाधित) ने अंगवस्त्र पहना कर किया।इस अवसर पर महापौर ने कहा कि दिल्ली विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसर मंजुला रथ ने महापौर को बताया कि दृस्टिबाधितो को चलने मैब आसानी हो इसके लिए साइन बोर्ड लगा दिए जाएं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: