उत्तराखंड : चमोली और पिथौरागढ़ में बादल फटने से भारी नुकसान, एक व्यक्ति की मौत, कई मकान बहे

पिथौरागढ़ जिले के नाचनी क्षेत्र में बीती रात को बादल फट जाने से भारी नुकसान हो गया है। वहीं टीमटीया में मकान ढहने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक की पहचान राम सिंह धर्मशक्तू के रूप में हुई है। इलाके का भैंसखाल पंचायत घर का आंगन भी बह गया है। कई मकानों पर खतरा मंडरा रहा है।

थल मुनस्यारी सड़क रातिगाड़ रसियबगड़, नया बस्ती आदि कई स्थान बंद हैं।  यहां मलबे में दबी एक महिला को सकुशल निकाल लिया गया। जानकारी के मुताबिक यहां चार घर जमीदोंज हो गए हैं। एसडीआएफ की टीम घटना स्थल के रवाना हो चुकी है। खबर है कि बादल फटने के दौरान हल्के वाहन भी बह गए हैं। वहीं दूसरी ओर बड़बगड़ क्षेत्र में जानवरों के दबने की भी सूचना है।

चमोली के गोविंद घाट में भी फटा बादल

इस मामले में जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदंडे द्वारा अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग को तत्काल थल मुनस्यारी सड़क को खोले जाने हेतु अतिरिक्त मशीन तथा मैन पावर लगाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को क्षेत्र में मेडिकल टीम भेजने व जिला पूर्ति अधिकारी को क्षेत्र में तत्काल खाने के पैकेट भेजने के भी निर्देश दिए हैं।

वहीं चमोली जिले के गोविंद घाट में भी बादल फटने की सूचना है। जानकारी के मुताबिक बादल फटने से पार्किंग में कई वाहन दब गए हैं। पुलिस ने हेमकुंड जाने वाले श्रदालुओं को सुरक्षित स्थान में भेज दिया है। थराली क्षेत्र के गुडंम में दो गोशालाओं के टूटने और कई मवेशियों के दबे होने सूचना  है। भारी बारिश से कोटद्वार में काश्तकारों की धान भी फसल बह गई है। कई जगह सड़क क्षतिग्रस्त हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: