मामूली विवाद के चलते दोस्त को गोली मारकर उतारा मौत के घाट, परिजनों ने मचाया बवाल

लखनऊ। राजधानी में गुरुवार को एक 26 वर्षीय युवक की उसी के दोस्त ने गोली मार हत्या कर दी। वारदात से इलाके में सनसनी मच गई। सैकड़ों लोग जमा हो गए और हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस-प्रशासन के अधिकारी पहुंचे तो लोग हत्यारोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर भिड़ गए। अमीनाबाद स्थित प्रकाश कुल्फी चौराहे पर उधर, युवक का शव बलरामपुर अस्पताल के बाहर रखकर लोगों ने धरना-प्रदर्शन व तोड़फोड़ शुरू कर दी। देर रात तक हंगामा जारी था।

पूरा मामला अमीनाबाद स्थित जूता वाली गली का है। यहां मौलवीगंज निवासी  विपिन सोनकर (26) पूड़ी की दुकान चलाता था। गुरुवार रात लगभग 10 बजे वह बताशे वाली गली में रहने वाले दोस्त लालू शुक्ला के साथ बैठा था। इस बीच किसी बात को लेकर उनका विवाद हो गया और गाली-गलौच शुरू हो गई। तभी लालू ने तमंचा निकाला और विपिन के सीने में गोली दाग दी। गोली चलने की आवाज सुनकर वहां अफरातफरी मच गई और आरोपित लालू भाग निकला। कुछ ही देर में मौके पर भीड़ जुट गई। पुलिस विपिन को बलरामपुर अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वही मौके पर पहुंचे एएसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि विपिन मौलवीगंज के खटिकाना का रहने वाला था। वह मछली वाली गली में सुनार की दुकान में कारीगर का काम करने के साथ जूते वाली गली के पास पूरी-सब्जी का ठेला भी लगाता था। रात 10 बजे विपिन पुराने परिचित बताशे वाली गली में रहने वाले जितेंद्र के साथ जूते वाली गली के बाहर बैठा था। इसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों में बहस और हाथापाई होने लगी।

विपिन ने गाली दे दी, जिस पर जितेंद्र ने तमंचा निकालकर उस पर फायर कर दिया। गोली विपिन के सीने के बीचों-बीच लगी और वह जमीन पर गिर पड़ा। गोली की आवाज से सनसनी फैल गई। पूरी-सब्जी की दुकान पर काम करने वाला देवेश उसे बलरामपुर अस्पताल लेकर गया। उधर, मौके पर मौजूद लोगों ने जितेंद्र को पकड़ लिया। इस बीच पास ही चौराहे पर मौजूद पुलिस पहुंच गई। विपिन को बलरामपुर अस्पताल के डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, जबकि जितेंद्र को थाने भेज दिया गया।

उधर, वारदात से आक्रोशित विपिन के परिवारीजनों व इलाके के लोगों ने प्रकाश कुल्फी के आसपास तोड़फोड़ शुरू कर दी। पुलिस ने हालात संभालने के लिए लाठीचार्ज किया। मौके पर कई थानों की फोर्स बुलवा ली गई।देर रात आक्रोशित लोग बलरामपुर अस्पताल पहुंचे और वहां भी तोड़फोड़ की। अस्पताल की कुर्सियां फेंक दीं व गमले तोड़ डाले। विपिन का शव अस्पताल के बाहर सड़क पर रखकर लोगों ने जाम लगा दिया। देर रात तक पुलिस मामले को संभालने में जुटी थी। साथ ही बताया कि परिजनों ने एक ही व्यक्ति का नाम लिया हुआ है इसे गिरफ्तार कर लिया गया है साथ ही पकड़े गए आरोपी से पूछताछ चल रही है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: