एमिटी यूनिवर्सिटी पार्किंग विवाद: हमलावर छात्रों की तलाश में पुलिस लगातार कर रही है छापेमारी

गौतमबुद्ध नगर: नोएडा स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी में पार्किंग को लेकर शुरू हुई खूनी मारपीट के मामले में अभी तक पुलिस के हाथ कोई आरोपी नहीं लग पाया है. हालांकि पुलिस का दावा है कि उसने हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है. हमले में घायल छात्रों में से एक की हालत नाजुक बनी हुई है. इस बीच लड़की पक्ष की ओर से भी छेड़छाड़ का मामला दर्ज करा दिया गया है.

गौतमबुद्ध नगर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने हमलावरों की तलाश में छापेमारी की पुष्टि की. उनके मुताबिक, थाना सेक्टर-39 पुलिस ने हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए उनके कई संभावित ठिकानों पर छापे मारे, लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी है.

एसएसपी ने बताया, “घटनाक्रम की गहन जांच के लिए और हमलावरों के चेहरे साफ-साफ पहचानने के लिए घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी फूटेज की भी मदद लेने के प्रयास जारी हैं. घायल युवक का अस्पताल में इलाज चल रहा है. दोनों लड़कों के ऊपर हुए हमले के मामले में सिर में गंभीर चोट पहुंचाने का केस पहले ही दर्ज किया जा चुका है.”

वैभव कृष्ण ने आगे बताया, “इस घटना के बाद सुर्खियों में आई यूनिवर्सिटी की छात्रा ने भी घायल छात्रों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कराया है. छात्रा ने अपनी शिकायत में छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. दोनों ही मामलों की जांच की जा रही है.”

अब जिस छात्रा ने गंभीर रूप से घायल छात्रों पर छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया है, कथित तौर पर वही 28 अगस्त को विश्वविद्यालय परिसर में बीच सड़क पर कार खड़ी किए रास्ता घेरकर खड़ी थी. पीड़ित लड़कों ने छात्रा से रास्ता भर मांगा था, जो उसे नागवार गुजरी. कुछ देर बाद वही लड़की विश्वविद्यालय के 25-30 लड़कों को साथ लेकर पहुंची और वे दोनों छात्रों पर टूट पड़े.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा, “दोनों छात्रों को गंभीर रूप से घायल किए जाने के मामले में पहले ही एफआईआर दर्ज कर दी गई थी. एफआईआर लिखवाने का अधिकार सबका है. लिहाजा जब छात्रा ने शिकायत दी तो उसे भी दर्ज कर लिया गया. दोषी-निर्दोष का पता जांच पूरी होने के बाद ही लग सकेगा. फिलहाल पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: