इटावा सफारी खुलवाने के लिए खोला मोर्चा, 100 से अधिक सपाई गिरफ्तार

इटावा सफारी को जनता के लिए खुलवाने को लेकर समाजवादी पार्टी का पूर्व प्रस्तावित धरना प्रदर्शन सोमवार को शुरू हो गया। सफारी के गेट पर बड़ी तादाद में सपाई बैठे हैं और नारेबाजी करते हुए अपनी आवाज बुलंद करते रहे। धरना प्रदर्शन के लिए सपा ने पहले से ही प्रशासन को अगाह कर दिया था।कुछ देर बाद पहुंची पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने में सभी सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। समाजवादी पार्टी के कार्यकाल में इटावा में सफारी की स्थापना हुई थी। इसके बाद अभी तक इसे जनता के लिए खोला नहीं गया है, इसके चलते काफी समय से सपाई मांग कर रहे हैं। सपा नेताओं ने सोमवार से सफाई खुलवाने की मांग को लेकर सोमवार से धरना प्रदर्शन करने का एलान किया था। इसी क्रम में सुबह से सफारी गेट पर सैकड़ों सपाई एकत्र हो गए। सुबह सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव के नेतृत्व में कार्यकर्ता सफारी गेट पर धरने पर बैठ गए। जिलाध्यक्ष ने कहा कि जब अखिलेश यादव मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने सफारी का उद्घाटन कर दिया था। बाद में सरकार बदलने की वजह से इसे अभी तक जनता के लिए खोला नहीं जा सका है।गोपाल यादव ने कहा कि भाजपा के कई बड़े नेता और मंत्री इटावा सफारी का निरीक्षण कर चुके हैं। इसमें सैर करने वाले तारीफ भी करते हैं लेकिन राजनीतिक द्वेष के कारण सरकार इटावा सफारी खोलने की अनुमति नहीं दे रही है। नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष कुलदीप गुप्ता संटू ने कहा कि इटावा के विकास और पर्यटन के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय महत्व स्थापित करने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री ने इटावा में सफारी पार्क की स्थापना की थी। वर्तमान सरकार नहीं चाहती कि इटावा का विकास हो, इसीलिए सफारी को नहीं खोल रही है। भाजपा नेताओं को लगता है कि सफारी खोलने से जनता से मिलने वाली प्रशंसा का श्रेय समाजवादी पार्टी की सरकार को कहीं न मिल जाए। कुछ देर बाद आई पुलिस ने धरना दे रहे सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया और पुलिस लाइन ले गई। एसडीएम सिद्धार्थ ने बताया कि धरना दे रहे 100 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। बाद में सभी निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: