जालौन के कालपी मंगरौल में मुख्यमंत्री ने पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र का उद्घाटन किया

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ब्रिटिश कानून शैली में अब बदलाव की जरूरत जताई है। उन्होंने रविवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि ब्रिटिश कानून शैली हमे विरासत में मिली है, जिसमें अब बदलाव की महती आवश्यकता है। अब इसे व्यावहारिक बनाना होगा और पुलिस को अपनी कार्यशैली बदलनी होगी ताकि आम जन को लगना चाहिये कि पुलिस हमारी मित्र है और वो अपनी समस्या खुलकर बता सके। कालपी तहसील में बने पुलिस प्रशिक्षण केंद्र का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बदलते समय के साथ अपराधियों की कार्यशैली भी बदली है, इसलिए अब उनकी बदली कार्यशैली को ध्यान में रखते हुए ही ट्रेनिंग भी लेनी होगी।कालपी मंगरौल में पुलिस प्रशिक्षण केंद्र के उद्घाटन के लिए करीब डेढ़ बजे मुख्यमंत्री को पहुंचना था लेकिन वह करीब सवा घंटे देरी से पहुंचे। हेलीकाप्टर से उतरने पर उनका जनप्रतिनिधियों व आलाधिकारियों ने स्वागत किया और पुलिस जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद उन्होंने फीता काटकर पुलिस प्रशिक्षण विद्यालय का उद्घाटन किया। इस दौरान जालौन की प्रभारी मंत्री नीलिमा कटियार भी मौजूद रहीं।इसके बाद सीएम ने परिसर में पौधारोपण भी किया। कहा, अब अपराध की बदलती शैली को देखते हुए उसी हिसाब से प्रशिक्षण लेना होगा। सरकार ने इस दिशा में तेजी से ध्यान दिया है, अभी तक 75 हजार सिपाहियों की भर्ती की जा चुकी है और 51 हजार भर्तियों की तैयारी चल रही है। सरकार ने 40 हजार प्रोन्नति भी की है। कार्यक्रम में सांसद भानु प्रताप वर्मा, विधायक नरेन्द्र सिंह जादौन, मूलचंद्र निरंजन, कमिश्नर कुमुदलता श्रीवास्तव, जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर, डीआइजी सुभाष बघेल, एसपी डा. सतीश कुमार, सीडीओ प्रशांत कुमार श्रीवास्तव, भाजपा जिलाध्यक्ष नागेंद्र गुप्ता आदि मौजूद रहे।अचानक मौसम में बदलाव होने और और काले बादल छा गए। खराब मौसम के चलते सीएम की अधिकारियों के साथ होने वाली समीक्षा बैठक निरस्त कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: