‘स्वच्छता और पॉलीथिन से मुक्ति’ विषय पर राज्य स्तरीय प्रतियोगिता, 4 लाख बच्चे लेंगे हिस्सा

लखनऊ। देश की सबसे बड़ी गैर सरकारी शैक्षिक संस्था विद्या भारती ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के विद्यालयों में सोमवार से पर्यावरण जागरूकता अभियान शुरू किया है। इस अभियान के तहत कुल 1100 विद्यालयों के 4 लाख बच्चों के बीच प्रतियगोतिओं का विभिन्न स्तरों पर आयोजन किया जाएगा।  स्वच्छता और पॉलीथिन उन्मूलन के विषय पर होने वाले ये प्रतियोगिताएं पूरे एक माह तक चलेंगी। यह प्रतियोगिताएं चार चरणो में आयोजित की जाएंगी। सबसे पहले विद्यालय स्तर पर फिर संभाग स्तर पर और फिर प्रांत स्तर पर और अंत में क्षेत्र स्तर पर पर इनका आयोजन होगा। हर स्तर पर विजेताओं को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कृत किया जाएगा।

चार चरणों में होगी प्रतियोगिता

इस प्रतियोगिता का पहला राउंड 26 अगस्त से 9 सितंबर के बीच और दूसरा राउंड 10 से 16 सितंबर के बीच होगा। वहीं, तीसरा राउंड 18 सितंबर से 23 सितंबर तक पूरा किया जाएगा और अंतिम चौथे राउंड में फाइनल प्रतियोगिता 29 सितंबर को होगी। इस प्रतियोगिता के विजेताओं को 30 सितम्बर को लखनऊ में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल पुरस्कृत करेंगी। इस अवसर पर बतौर मुख्य वक्ता भारत सरकार के आवास एवं शहरी विकास विभाग के सचिव दुर्गा शंकर मिश्र बच्चों को विषय के महत्व से परिचित करवाएंगे।

इस प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्रों के साथ ही नकद इनाम भी दिए जाएंगे। विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्र प्रचार प्रमुख सौरभ मिश्रा ने बताया कि प्रथम पुरस्कार 21 हजार रुपये द्वितीय पुरस्कार 11 हजार रुपये जबकि तृतीय पुरस्कार 5100 रूपये और सांत्वना पुरस्कार के तौर पर जीतने वाले प्रतिभागियों को 1100 रुपए दिए जाएगें।

विद्या भारती के इस बड़े आयोजन का संयोजन कर रहे यूनाइट फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित के मुताबिक प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों को दायित्वबोध करवाना और बच्चों के बीच सामाजिक चुनौतियों के प्रति चेतना जागृति अहम मकसद है। इसीलिए इस अभियान में बच्चों को वैज्ञानिक सोच से जोड़ने के लिए, ललित कलाओं के प्रति जागरूकता का विस्त्तार करने के लिए राष्ट्रीय ललित कला अकादमी और हमारी विरासत की रक्षा और उससे जोड़ने का कार्य राष्ट्रीय सांस्कृतिक संपदा संरक्षण अनुसंधानशाला करेगी। सभी विजेताओं को इन संस्थाओं के विशेषज्ञ प्रशिक्षण देंगे और यूनाइट फाउण्डेशन चयनित बच्चों को ‘यू केयर क्लब’ का सदस्य बनाएगी। विद्या भारती और यूनाइट फाउण्डेशन के इस साझा अभियान को व्यापक समर्थन हासिल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: