ट्रक में तार फंसने से बिजली विभाग के लाइनमैन की हुई मौत

लखनऊ। राजधानी के चिनहट थाना क्षेत्र स्थित आयोध्या मार्ग के केटीएल के पास देर रात बिजली आपूर्ति ठप होने की शिकातय पर काम करने पहुंचे एक संविदाकर्मी दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जिसको आनन-फानन में उसे लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे ट्रामा सेंटर भेज दिया गया। जहां सुबह डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। संविदाकर्मियों ने विभाग द्वारा उसे उचित मुआवजा दिये जाने की मांग की है।मूल रुप से हर्रई मित्तई जनपद बारबांकी का रहने वाला ओमप्रकाश पुत्र कांशीराम देवा रोड स्थित विद्युत सबस्टेशन पर साल 2013 से बतौर विद्युत संविदाकर्मी तैनात था। शुक्रवार की देर रात तकरीबन 2:30 बजे सेमरा के केटीएल के पास 11केवीए का तार टूटने की शिकायत पर वहां पहुंचा था। उसके साथ तीन और संविदाकर्मी मौजूद थे।

शर्टडाउन लेकर वह तार को अयोध्या मार्ग के आर-पार जोड़ने के लिए सड़क पार कर रहा था कि एक ट्रक गुजरा ओमप्रकाश हाथ देकर ट्रक को रोकना चाहा लेकिन ट्रक नहीं रुका। आगे बढ़ते ही 11 केवीए का तार ट्रक में फंस गया तार का एक सिरा ओमप्रकाश के दाहिने पैर में फंसा। जिससे वह काफी दूर तक सड़क पर घसीटता रहा। गम्भीर अवस्था में उसे लोहिया अस्पताल ले जाया गया। जहां के डॉक्टरों ने उसकी स्थिति को देकर उसे रेफर कर दिया और वहां उसकी मौत हो गयी। ओमप्रकाश की एक बेटी है। परिवार में वह एक लौता सहारा था। ओमप्रकाश के साथ काम कर रहे संविदाकर्मियों ने विभाग से उचित मुआवजा व परिवार में किसी को नौकरी दिये जाने की मांग की है। संविदाकर्मियों ने यह भी आरोप लगाया कि विद्युत विभाग को एक भी अधिकारी रात से अभी तक इस मामले से संज्ञान नहीं लिया और ना ही कोई अस्पताल आकर परिजनों से मुलाकत की। बिजली विभाग के लाइनमैन का शव शिवपुरी पावर हाउस पर परिजन रखकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं मृतक की 2.5 साल की बेटी मांसी के आपरेशन के लिए सरकार से मदद मांग रही है। परिजनों की मांग है कि बिजली विभाग 5 लाख का मुआवजा दे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: