मंदिर की सीढ़ियों से उतरते हुए की गई थी गुलशन कुमार की हत्या

12 अगस्त, 1997 को हिंदी म्यूजिक इंडस्ट्री के लिए काला दिन था। सुबह के करीब साढे आठ बजे गुलशन कुमार पूजा करने मंदिर गए हुए थे जहां से चौंका देने वाली खबर आई। ऐसी खबर जिससे देश-विदेश के लोग हिल गए। बॉलीवुड फिल्म प्रोड्यूसर गुलशन कुमार की हत्या मुंबई में गोली मारकर दी गई थी। आज गुलशन कुमार की पुण्यतिथिमौत से पहले गुलशन कुमार ने सुबह सात बजे प्रोड्यूसर झामु सुगंध को फोन कर कहा था कि कि एक सिंगर और फिर एक दोस्त से मिलने के बाद वो मंदिर जाएंगे और उसके बाद उनसे मिलने आएंगे। लेकिन इस कॉल के तीन घंटे बाद यानी तकरीबन साढ़े दस के करीब अंधेरी के जीतेश्वर महादेव मंदिर के सामने गुलशन कुमार को एक के बाद एक 16 गोलियां मार दी गईं। उनकी जान तुरंत चली गई। जिस देसी तमंचे से गुलशन कुमार की हत्या की गई उस पर बम्हौर लिखा था।क्या हुआ था उस दिन

इंडिया टुडे की एक स्टोरी के मुताबिक उस दिन 42 साल के गुलशन कुमार हाथ में पूजा की सामाग्री लिए, माला जपते हुए मंदिर की ओर जा रहे थे। मंदिर गुलशन कुमार के घर से करीब एक किलोमीटर से भी कम की दूरी पर था। हालांकि उस दिन वह अपने उत्तर प्रदेश पुलिस के गनमैन के बिना मंदिर गए थे। क्योंकि वह कुछ दिनों पहले बीमार हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: