लोहिया संस्थान में कर्मचारी हड़ताल पर, सिर्फ इमरजेंसी में मिलेगा इलाज

लखनऊ: लोहिया संस्थान के डॉक्टरों और कर्मचारियों ने सोमवार शाम इमरजेंसी और आईसीयू को छोड़कर बाकी जगह काम ठप कर दिया है। बता दें कि ये सभी 1 जुलाई 2017 से पीजीआई के बराबर वेतन-भत्ते की मांग कर रहे हैं। इनकी हड़ताल मंगलवार को भी जारी है। डॉक्टरों के ऐलान के मुताबिक, इस दौरान मरीजों को न तो ओपीडी में इलाज मिल सकेगा, न ही ऑपरेशन हो सकेंगे।

लोहिया संस्थान के डॉक्टरों और कर्मचारियों को पीजीआई के बराबर वेतन-भत्ता मिल रहा है, लेकिन वे 1 जुलाई 2017 से यह फैसला लागू करने की मांग कर रहे हैं। इस संबंध में सोमवार को शिक्षक संघ की आम सभा हुई। इसमें तय हुआ कि डॉक्टर सोमवार शाम से मंगलवार तक काम नहीं करेंगे। इस दौरान डॉक्टरों और कर्मचारियों को संयुक्त प्रदर्शन भी किया।बताया जा रहा हिया कि सरकार ने वादा किया था कि संस्थान में पीजीआई के अनुरूप भत्ते दिए जाएंगे। हमारी सभी सेवा शर्तें भी उसी के अनुरूप है, लेकिन हमें दो साल बाद की तारीख से भत्ते दिए जा रहे हैं। मंगलवार को कैबिनेट की बैठक है। इसमें बैक डेट से भत्ते देने पर फैसला नहीं हुआ तो बेमियादी हड़ताल की जाएगी। इस दौरान न तो ओपीडी चलेगी, न ही पहले से प्रस्तावित ऑपरेशन होंगे। हड़ताल के दौरान सिर्फ इमरजेंसी में आने वाले मरीजों के ऑपरेशान होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: