आर्टिकल 370 पर सरकार को मिला मायावती का साथ

जम्मू कश्मीर पर मोदी सरकार ने सोमवार को एक एतिहासिक फैसला लिया। राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को कश्मीर राज्य से धारा 370 हटाने का प्रस्ताव रखा है। इसी के चलते अमित शाह ने जम्मू कश्मीर राज्य के पुनर्गठन का संकल्प लिया है। राज्यसभा में अमित शाह के इस अहम ऐलान के बाद विपक्ष दल ने काफी हंगामा किया और कुछ लोग नाराजगी दिखाते हुए खुद के कपड़े भी फाड़े। जबकि बहुजन समाज पार्टी ने धारा 370 पर मोदी सरकार के संकल्प को सराहा है। बहुजन समाज पार्टी ने धारा 370 पर मोदी सरकार के संकल्प का राज्यसभा में समर्थन किया है। वहीं देश भर में लोग खुशी से झूम रहें है।

बीएसपी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने राज्यसभा में कहा कि उनकी पार्टी आर्टिकल 370 से जुड़े बिल का समर्थन करती है। वहीं, कांग्रेस और पीडीपी ने राज्यसभा में बिल का विरोध किया।

बता दें कि जहां राज्यसभा में सभी विपक्ष दल नाराज दिख रहे थे, वहीं बहुजन समाज पार्टी ने धारा 370 बिल को सराह कर आश्चर्य में ड़ाल दिया है। कांग्रेज और पीडीपी बिल के विरोध में धरने पर बैठ गए, लेकिन बसपा ने बिल का समर्थन किया। घाटी में बढ़ते तनाव को देखकर सरकार ने यूपी में भी हाई अलर्ट जारी कर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। यूपी के मुख्य सचिव ने एडवाइजरी जारी कर दी कि सचिवालय, विधानसभा और सीएम आवास की सुरक्षा बढ़ा दी जाए।

अनुच्छेद 370 खत्म- केंद्र सरकार ने अब तक का सबसे बड़ा फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370  को हटा दिया है। बता दें अनुच्छेद 370 से जम्मू-कश्मीर को संविधान में विशेष दर्जा मिला हुआ था। गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में इसे खत्म करने घोषणा कर दी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अनुच्छेद 370 हटाने के लिए अधिसूचना जारी कर दी। इसके तहत जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है। जम्मू-कश्मीर एक केंद्र शासित प्रदेश होगा और दूसरा लद्दाख।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: