महमूद प्राचा के ख़िलाफ़ सरकार से कार्यवाही की मांग

लखनऊ। राजधानी के टीले वाली मस्जिद पर जुमे की नमाज से पहले सीनियर एडवोकेट महमूद प्राचा ने मॉब लिंचिंग के खिलाफ लोगों को अपनी हिफाजत का हवाला देते हुए कानून के तहत लाइसेंसी हथियार रखने की ट्रेनिंग दी थी। जिस पर अब ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष और वरिष्ठ शिया धर्मगुरु मौलाना डॉक्टर कल्बे सादिक के बेटे कल्बे हुसैन ने विरोध जताया है और सरकार से महमूद प्राचा पर कार्यवाही की मांग की है। महमूद प्राचा् का विरोध जताते हुए डॉक्टर कल्बे सादिक के बेटे कल्बे हुसैन ने अपना बयान जारी किया है। अपने जारी किए हुए बयान में कल्बे हुसैन ने महमूद प्राचा के खिलाफ सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि लखनऊ शहर अपनी गंगा जमुनी तहजीब के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है और यहां इस तरीके की ट्रेनिंग वह भी मस्जिद जैसी पवित्र जगह पर हरगिज़ जायज नहीं है। कल्बे हुसैन ने कहा के खासतौर से मुस्लिम नौजवानों को टेक्नोलॉजी और शिक्षा की ट्रेनिंग की जरूरत है ना कि किसी हथियार जैसी चीज हासिल करने की, क्योंकि दुनिया भर में मुसलमान हथियारों के वजह से ही बदनामी का दंश झेल रहा है। ऐसे में हिंदुस्तान अमन का देश है वहां इस तरीके की नफरत भरी बातों के लिए कोई जगह नहीं है। गौरतलब है कि महमूद प्राचा ने लखनऊ की टीले वाली मस्जिद पर लोगों को कानून के तहत हथियार रखने की ट्रेनिंग दी थी। उसके बाद उन्होंने लखनऊ के यूपी प्रेस क्लब में प्रेसवार्ता करके इस बात की जानकारी मीडिया से भी साझा की थी जिस पर अब महमूद प्राचा के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठने लगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: