पुलिस के हत्थे चढ़ा बुलट चोरों का गैंग, 20 लाख की बाइक उड़ाने का बना रहे थे प्लान

ANA News

लखनऊ। राजधानी में चोरी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, पुलिस की सख्ती के बाद भी चोरों के हौसले बुलंद हैं। ऐसे में पुलिस की सुपर 30 टीम ने बुलेट गैंग चोरों का पर्दाफाश किया है। इस गैंग में 4 सदस्य विनय कुमार सिंह उर्फ राजन, साहिल राय, अभिषेक यादव और नुर्शीद आलम शामिल हैं। हालांकि बुलेट गैंग सरगना के 2 आरोपी विकास कुमार उर्फ आनंद कुमार और प्रिंस कुमार अभी भी पुलिस के गिरफ्त से दूर हैं।

 

ये शातिर चोर लखनऊ और दिल्ली से बुलेट चोरी करके बिहार में इसे अच्छे दामों पर बेचते थे। यही वजह है बिहार में चोरी की गई बुलेट और अन्य बाइकों की डिमांड होती थी। चोरों का ये बुलेट गैंग पीजीआई इलाके में 20 लाख की बाइक उड़ाने की योजना बना रहे थे। बता दें की ये शातिर गैंग के पास से गिरफ्तारी के बाद से मोटर साईकिल, 10 कार, 2 तमंचे और कारतूस बरामद किए गए हैं। इस पूरे गैंग की टीम का पर्दाफाश गोमतीनगर पुलिस ने किया है।वहीं इन शातिर चोरों के बारे बात करते हुए एसपी नार्थ सुकृति यादव बताया कि जनपद एक सुपर 30 टीम एसएसपी द्वारा बनाई गई है। गोमतीनगर टीम ने सर्विलांस के माध्यम से काफी समय से जानकारियां इकट्ठा कर रहे थे। उन्होंने कहा जो पुराने लूट की घटनाएं हुई हैं, इनसे सम्बंधित कुछ सर्विलांस पर हम लोग सुन और देख रहे थे। जिसकी वजह से एक गैंग प्रकाश में आया। ऐसे में जब हमने उनको अरेस्ट किया तो पता चला कि ये पीजीआई में एक बड़ी लूट की घटना को अंजाम देने वाले थे। उन्होंने कहा यह एक अंतरराजीय गिरोह है, जिसमें अलग शिवान के 2 नए लोगों को बुलाया गया था।जिसके बाद ये लोग तमंचे, कार और बाइक की मदद से एक बड़ी लूट की घटना को अंजाम देने वाले थे। हालांकि पूछताछ के दौरान पता चला कि इनके पास गाड़ियों को खोलने का मास्टर चाभी थी। वहीं इस दौरान एसपी ने ये भी बताया कि जो गाड़ियां वहां से चोरी हैं उन सभी में ये गिरोह शामिल था। जिसके बाद सभी गाड़ियों को लखनऊ और बिहार से पता करके इन्हें गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: