सोनभद्र हत्याकांड: पीड़ित परिवारों से मिलने जा रहीं प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया गया, प्रियंका बोलीं- नहीं पता कहां ले जा रहे

ANA News

लखनऊ: सोनभद्र हत्याकांड को लेकर उत्तर प्रदेश की सियासत गरमा गई है. सदन से लेकर सड़क तक सोनभद्र हत्याकांड को लेकर शोर सुनाई दे रहा है. इस बीच वाराणसी से सोनभद्र जा रही प्रियंका गांधी को मिर्जापुर में रोका गया तो प्रियंका कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गईं. कांग्रेस नेता अजय राय ने दावा किया है कि पुलिस ने प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया गया है. फिलहाल पुलिस प्रियंका गांधी को मिर्जापुर की तरफ ले जा रही है.

प्रियंका गांधी के दौरे से पहले सोनभद्र में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, इलाके में धारा 144 लगाई गई है. प्रियंका गांधी ने कहा, ”मैं सिर्फ पीड़ितों के परिवार के मिलना चाहती हूं, मैंने यहां तक कहा है कि मैां अपने साथ सिर्फ चार लोगों लेकर जाऊंगी. इसके बावजूद प्रशासन मुझे जाने नहीं दे रहा है. उन्हें बताना चाहिए हमें क्यों रोका जा रहा है. हम यहां शांति पूर्वक धरने पर बैठे रहेंगे.” इससे पहले प्रियंका गांधी ने वाराणसी में सोनभद्र कांड के पीड़ितों से मुलाकात की और उनका हाल चाल जाना.

उत्तर प्रदेश विधानसभा में गूंदा सोनभद्र का मुद्दा
वहीं सोनभद्र मामले की गूंज आज उत्तर प्रदेश विधानसभा में सुनाई दी. विपक्षी पार्टियों ने आरोप लगया कि प्रदेश में योगी सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने में असफल रही है. हालांकि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई केरगी. उन्होंने कहा, ” इम मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है. अब तक मामले में मुख्य आरोपी प्रधान समेत 25 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है.” योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, ”दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. सोनभद्र में हुई हत्या की जांच कमिटी केरगी. जो भी दोषी हैं उनको छोड़ा नहीं जाएगा.” बता दें कि सोनभद्र में घटना वाली जगह पर आज धारा 144 लगा दी गई है.

सोनभद्र मामले पर विपक्ष हमलावर?
बता दें कि सोनभद्र हत्याकांड को लेकर कानून व्यवस्था के मुद्दे पर विपक्षी दल यूपी की योगी आदित्यानाथ की सरकार पर हमलावर है. गुरुवार को कंग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की. अब प्रियंका गांधी वाड्रा भी शुक्रवार की सुबह पीड़ित परिवारों से मिलने वाराणसी और सोनभद्र पहुंची. इससे पहले भी प्रियंका गांधी सोनभद्र हत्याकांड को लेकर यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा चुकी हैं.

क्या है मामला?
सोनभद्र में घोरावल थाना क्षेत्र के उधा गांव में ग्राम प्रधान यज्ञदत्त ने एक आईएएस अधिकारी से खरीदी गई 90 बीघा जमीन पर कब्जे के लिए बड़ी संख्या में अपने साथियों के साथ पहुंचकर जमीन जोतने की कोशिश की. विरोध करने पर उसकी तरफ के लोगों ने स्थानीय ग्रामीणों पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं. इस वारदात में नौ लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी. एक घायल ने बाद में दम तोड़ दिया. 18 अन्य जख्मी हो गए.

 

प्रशासनिक अधिकारी गुरुवार शाम लगभग पांच बजे मृतकों के शव लेकर उभ्भा गांव पहुंचे. शवों को देखते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया. शवों को दफ़नाने के स्थान को लेकर प्रशासन एवं ग्रामीणों में विवाद की स्थिति पैदा हो गई. गांव वालों की मांग थी कि जहां गोली चली है, शवों को उसी ज़मीन में दफ़नाया जाए जबकि प्रशासन का कहना था कि परम्परागत स्थान पर ही दफ़नाया जाएगा. अंतत: देर रात मामले में गतिरोध समाप्त हो गया और अधिकारियों ने ग्रामीणों को उनकी जिद छोड़ने के लिए मना लिया.

Priyanka Gandhi Sits In Protest Post Being Stopped to going sonbhadra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: