नेपाल बाढ़ : मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई, अब तक 67 लोग गवां चुके हैं जान

ANA News

काठमांडू: नेपाल में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या 67 हो गई है जबकि 32 लोगों के लापता होने की खबर है. इसके अलावा 40 से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी जानकारी सामने आई है. सिन्हुआ न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल पुलिस ने एक बयान में कहा कि पीड़ितों में 41 पुरूष और 26 महिलाएं शामिल हैं. पुलिस ने राहत कार्यों में बचाए गए लोगों के बारे में भी बताया है.

पुलिस की दी हुई जानकारी के मुताबिक, “विभिन्न जिलों से कम से कम 1,445 लोगों को सफलतापूर्वक बचाया गया है और उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है.” गृह मंत्रालय के मुताबिक, करीब 35,000 लोग इस तबाही से प्रभावित हुए हैं, खास तौर पर तराई क्षेत्र के रूप में जाने जाने वाले निचले इलाकों में लोगों की जिंदगी इससे ज्यादा प्रभावित हुई है. नेपाल के 77 जिलों में से 20 से अधिक बाढ़ और भूस्खलन से बुरी तरह से प्रभावित है.

राहत-बचाव कार्य जारी

नेपाल सेना, नेपाल पुलिस और सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती आपदा प्रभावित जिलों में बचाव और राहत कार्यों को करने के लिए की गई है. नदियों में उफान के चलते तटबंध के टूट जाने और पानी मानव बस्तियों में घुसने से लोगों को सुरक्षित जगहों पर शिफ्ट किया जा रहा.

प्रांतीय सरकारों ने अलग से पीड़ितों के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जिनमें घायलों का मुफ्त इलाज और अपने सदस्यों को खोने वाले परिवारों के लिए नकदी शामिल है. हेल्थ एमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर ने कहा कि डाक्टर सहित अलग-अलग मेडिकल टीम बुरी तरह से प्रभावित जिलों में भेजी गई है ताकि लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई जा सके.

मौसम पूर्वानुमान विभाग के अनुसार, हालांकि कई प्रमुख नदियों में पानी का स्तर धीरे-धीरे कम हो रहा है, लेकिन देश के कई क्षेत्रों में बारिश के जारी रहने से लोगों को सचेत रहने की चेतावनी दी गई है. नेपाल में सामान्यत जुलाई और अगस्त में मानसून की गतिविधि देखी जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: