राज्यपाल ने लविवि वीसी की अध्यक्षता में बनाई कमेटी सभी विश्वविद्यालयों में पीएचडी अवॉर्ड देनेे की डेट होगी एक, बनेगी गाइड लाइन

ANA News

राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में पीएचडी अवॉर्ड की डेट एक होगी। ऐसे में यूनिवर्सिटी में अपनी-अपनी तारीख का मतभेद खत्म होगा। इसके लिए राजभवन ने पहल शुरू कर दी। वहीं लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति की अध्यक्षता में कमेटी का भी गठन कर दिया गया।राजभवन ने एक तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी के अध्यक्ष लविवि के कुलपति प्रो. एसपी सिंह को बनाया गया है। इसके अलावा कमेटी में एकेटीयू के कुलपति, चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी मेरठ के कुलपति को शामिल किया गया है। लविवि के कुलपति ने समिति की मीटिंग भी बुला ली है। यह समिति एक सप्ताह के अंदर राजभवन को रिपोर्ट सौंपेगीप्रदेश में  29 राज्य विश्वविद्यालय का संचालन हो रहा है। इन सभी यूनिवर्सिटी में पीएचडी अवॉर्ड करने की अलग-अलग तारीख है। कोई विश्वविद्यालय पीएचडी अवॉर्ड करने की डेट शोधार्थी के थीसिस जमा करने की तारीख से मानता है। तो कोई दीक्षा समारोह में पीएचडी अवॉर्ड की की डेट को लागू करता है। ऐसे में पीएचडी अवॉर्ड की डेट एक समान नहीं होती हैं। लिहाजा कई बार शोधार्थियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं। वहीं शिक्षकों का कहना है कि पीएचडी अवॉर्ड होने की डेट दीक्षा समारोह मानी जानी चाहिए।तय डेट से पहले दावा होगा अमान्य  नई गाइडलाइन बनने के बाद प्रदेश के सभी विवि में पीएचडी अवॉर्ड की डेट एक होगी। इस डेट से पहले अगर कोई विद्यार्थी पीएचडी पूरी होने का दावा करेगा, उसे अमान्य माना जाएगा। साथ ही कमेटी पीएचडी से जुड़े कई और अहम चीजों पर भी प्रस्ताव बनाकर राज्यपाल को भेजेगी। ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: