संचारी रोग नियंत्रण के लिए शिक्षा विभाग निकालेगा स्कूलों की बड़ी रैली

ANA News

राजधानी लखनऊ संचारी रोग नियंत्रण अभियान तथा दस्तक अभियान  की समीक्षा के लिए अंतर विभागीय बैठक संपन्न हुई। इस बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी ने की। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल, जिला विद्यालय निरीक्षक श्री मुकेश कुमार सिंह , डब्ल्यूएचओ एनपीएसपी से डॉ सुरभि त्रिपाठी , यूनिसेफ से डॉक्टर सौरभ अग्रवाल, बेसिक शिक्षा अधिकारी, पंचायत राज ,समाज कल्याण ,सिंचाई विभाग, कृषि ,आईसीडीएस, पशुपालन ,दिव्यांगजन, जल संस्थान तथा नगर निगम के अधिकारी उपस्थित थे ।बैठक में समस्त अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारियों,,उप मुख्यचिकित्सा अधिकारियो,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक तथा नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की अधीक्षिकाओं ने भाग लिया। बैठक में जिला विद्यालय निरीक्षक श्री मुकेश कुमार सिंह ने घोषणा की कि संचारी रोग नियंत्रण अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए अगले सप्ताह एक विशाल रैली का आयोजन किया जाएगा जिसमें 100% स्कूल भाग लेंगे तथा 100% कवरेज सुनिश्चित किया जाएगा। यह लगभग चार लाख बच्चों की एक बड़ी रैली होगी जिसका व्यापक संदेश जाएगा। उन्होंने बताया कि उनके विभाग की ओर से पोस्टर, क्विज ,निबंध तथा वाद-विवाद प्रतियोगिताओं के माध्यम से संचारी रोग नियंत्रण के बारे में जागरूकता फैलाने का कार्य किया जा रहा है। नोडल अधिकारी डॉक्टर के पी त्रिपाठी ने अब तक हुई प्रगति की रिपोर्ट प्रस्तुत की।उन्होंने बताया कि अभियान के चलते ए ई एस तथा जे ई के मामलों में काफी कमी आई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समिति की बैठकें कम होने अप्रसन्नता व्यक्त की ।विशेष रूप से बीकेटी, मलिहाबाद तथा काकोरी के अधीक्षकों को उन्होंने निर्देश दिया कि इस कार्य में तेजी लाई जाए। डॉक्टर के पी त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि चंदर नगर तथा सिल्वर जुबली नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के द्वारा अद्यतन रिर्पोटिंग नहीं की जा रही है। पशुपालन विभाग के अधिकारी ने बताया कि उन्होंने सूअर पालकों के साथ  25 मीटिंग  की हैं, जिसमें उन्होंने सूअर पालको को इस बारे में जागरूक किया कि आबादी से दूर रहें, साफ सफाई रखें और यदि संभव हो तो सूअर पालन छोड़कर दूसरा व्यवसाय अपनाएं। कृषि विभाग के अधिकारी ने बताया कि चूहा नियंत्रण अभियान चलाया जा रहा है। किसानों को बताया गया कि चूहों के द्वारा संचारी रोग फैलने के साथ-साथ वे फसल को भी नुकसान पहुंचाते हैं ।इसलिए इन पर नियंत्रण करना बहुत आवश्यक है ।आईसीडीएस विभाग के अधिकारी ने बताया कि अब तक उन्होंने 1580 बच्चे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर रेफर किए हैं जिनमें से 10 बच्चे एनआरसी को रेफर किए गए हैं ।नगर निगम से डॉक्टर रश्मि ने बताया कि 1 जुलाई से फागिंग अभियान चल रहा है। वाटर लॉगिंग के क्षेत्रों में पंप लगाकर पानी निकालने का प्रयास किया जा रहा है। यदि कहीं वाटर लॉगिंग हो रही है तो उसकी सूचना नगर निगम के कंट्रोल रूम को तुरंत ही प्रेषित करें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम माननीय मुख्यमंत्री की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से है तथा वे केवल यूनिसेफ एवं डब्ल्यूएचओ द्वारा मॉनिटरिंग के आंकड़ों पर ही  समीक्षा करते हैं ।अतः सभी को इस कार्यक्रम को सफल बनाना है । यूनिसेफ के डीएमसी डॉक्टर सौरभ अग्रवाल ने अपने प्रस्तुतीकरण में बताया कि अर्बन क्षेत्रों में इस कार्यक्रम के प्रति जागरूकता का अभाव है। इस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि आगामी 22/ 23 जुलाई को माननीय मेयर महोदय तथा नगर निगम के सभी सभासदों के साथ एक कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: