यूपी: बेटी के आरोपों पर विधायक राजेश मिश्रा ने दी सफाई, कहा- मैंने किसी को नहीं दी धमकी

ANA News

नई दिल्ली: दलित युवक से ब्याह रचाने वाली बरेली के बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी ने अपने पिता व परिवार के दूसरे लोगों से जान का खतरा बताते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल कर अदालत से सुरक्षा दिए जाने की अपील की है. इसी बीच राजेश मिश्रा का एक बयान सामने आया है. एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर विधायक ने कहा, मेरे खिलाफ जो कुछ भी मीडिया में चल रहा है वो सब गलत है. मैंने किसी को कोई धमकी नहीं दी है. मेरी बेटी बालिग है और उसे निर्णय लेने का अधिकार है. मैनें किसी को जान से मारने की धमकी नहीं दी है, न ही मेरे परिवार के किसी व्यक्ति ने दी है. मैं और मेरा परिवार अपने काम में व्यस्त है, मैं अपनी विधानसभा में जनता का कार्य कर रहा हूं.”

उन्होंने आगे कहा, ”कोई आदमी नहीं ढूंढ रहा है और ना ही मुझे इसके बारे में कोई जानकारी है, और वह कहां है मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. यह बात गलत है कि कोई ढूंढ रहा है, कोई नहीं ढूंढ रहा है. मैं तो कहीं गया नहीं हूं, सबको पता है कि मैं यही हूं, मेरे लोग यहां है. भाई आया, भतीजा आया है. कोई कहीं नहीं गया, कोई जाएगा भी नहीं. हम अपने काम में मस्त हैं.”

ये है पूरा मामला

दरअसल बरेली के बिथरी चैनपुर से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा बेटी के दूसरी जाति में शादी करने के खिलाफ थे. शादी के लिए घरवालों के नहीं मानने पर साक्षी और अजितेश ने 4 जुलाई को प्रयागराज जाकर मंदिर में शादी कर ली. जान का खतरा देखते हुए अब दोनों वीडियो बनाकर पुलिस से सुरक्षा की मांग कर रहे हैं. ये वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया है.

साक्षी ने अपनी अर्जी में कहा है कि वह बालिग़ है और उसने अपनी मर्जी से दलित युवक से शादी की है. उसके विधायक पिता व परिवार के दूसरे लोग इस शादी का विरोध कर रहे हैं और उनकी हत्या कराना चाहते हैं.

साक्षी ने परिवार के लोगों से ही जान का खतरा बताते हुए अदालत से अपने व पति के लिए सुरक्षा मुहैया कराए जाने का आदेश दिए जाने की अपील की है. अर्जी में बरेली पुलिस पर भी विधायक पिता के दबाव में काम करने का आरोप लगाया गया है. साक्षी की इस अर्जी पर हाईकोर्ट में दोपहर करीब बारह बजे सुनवाई होने की उम्मीद है. साक्षी की तरफ से अदालत में उनके वकील उनका पक्ष रखेंगे. साक्षी के वकील उन दोनों वीडियो को भी अदालत में पेश करेंगे, जिसे किसी गुप्त जगह पर छिपे हुए साक्षी व उसके पति अजितेश ने सोशल मीडिया पर वायरल किया है.

बता दें कि बरेली जिले की बिथरी चैनपुर सीट से बीजेपी के विधायक राजेश मिश्र उर्फ़ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी दलित समुदाय के अजितेश कुमार से प्यार करती थी. गैर बिरादरी का होने की वजह से विधायक राजेश मिश्र और उनका परिवार शादी के लिए राजी नहीं था. साक्षी कुछ दिनों पहले ही घर छोड़कर चली गई और उसने चार जुलाई को प्रयागराज के एक मंदिर में वैदिक रीति रिवाजों के साथ अजितेश कुमार से शादी कर ली. दोनों एक होटल में छिपकर रह रहे थे. विधायक पिता राजेश मिश्र के कुछ करीबियों ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की, लेकिन दोनों भागकर किसी गुप्त स्थान पर चले गए हैं.

साक्षी ने इसके बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल कर अपने व पति के लिए सुरक्षा की गुहार लगाई है. अदालत में होने वाली सुनवाई से पहले साक्षी ने दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किये हैं. इन दोनों वीडियो में उसने विधायक पिता, परिवार के दूसरे सदस्यों व कुछ अन्य लोगों से जान का खतरा बताया है और खुद अपने – पति अजितेश व उसके परिवार वालों के साथ कोई अनहोनी होने पर पिता को ही ज़िम्मेदार ठहराए जाने की बात कही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

application/x-httpd-php footer.php ( PHP script text )
%d bloggers like this: