देर रात सफर कर रही महिलाओं को घर तक छोड़ेगी पुलिस

हैदराबाद गैंगरेप  और उत्तर प्रदेश में रेप की घटनाओं के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस  ने अब महिला सुरक्षा को लेकर अहम तैयारी शुरू कर दी है. जानकारी के अनुसार डीजीपी मुख्यालय में प्लान तैयार किया जा रहा है कि देर रात सफर कर रही महिलाओं को पुलिस घर तक छोड़े. 112 नंबर पर कॉल करने पर महिलाओं को ये सुविधा मिलेगी. इसके तहत 112 की पीआरवी में महिला सिपाहियों की मदद से महिलाओं को घर छोड़ा जाएगा.

जानकारी के अनुसार डीजीपी मुख्यालय पर इस समय प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह की डायल 112 सेवा के एडीजी असीम अरुण के साथ मीटिंग हुई. इसके बाद डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अब उत्तर प्रदेश में देर रात सफर कर रही महिलाओं को डायल 112 सेवा घर तक छोड़ेगी. उन्होंने कहा कि जो भी महिला 112 नंबर पर कॉल करके सहायता मांगेगी, उसे ही ये सुविधा मिलेगी. उन्होंने बताया कि अभी हमारे पास 10 फीसदी पीआरवी पर ही महिला पुलिसकर्मी हैं. प्राथमिकता के साथ महिला पुलिसकर्मी वाली पीआरवी दी जाएगी. महिला पुलिसकर्मी न होने पर पीआरवी कमांडर मौके पर उचित फैसला लेगा. उन्होंने बताया कि डीजीपी मुख्यालय इस संबंध में निर्देश आज जारी हो रहे हैं.

यूपी में खोले जाएंगे 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट

बता दें सोमवार को ही महिलाओं व बच्चों के खिलाफ बढ़ते अपराध से उपजे आक्रोश के बीच प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) दोषियों को जल्द सजा दिलाने के लिए ठोस पहल की है. इसी क्रम में सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में प्रदेश कैबिनेट पाक्सो एक्ट व बलात्कार से संबंधित वादों के शीघ्र निस्तारण के लिए 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट खोले जाने की मंजूरी मिल गई है. यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने बताया कि इन अदालतों में सिर्फ रेप के मामलों की सुनवाई होगी. जिसमें 144 कोर्ट महिलाओं और 74 कोर्ट बच्चों के मामले की सुनवाई करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

छूटी हुई खबरे

%d bloggers like this: